hindi kahani, 50+हिन्दी कहानियाँ, बाल कहानियाँ

hindi kahani हिन्दी कहानियाँ

शहीदों की माँ

एक स्त्री के तीन बेटे युद्ध में भाग लेने गए। कुछ दिनों बाद खबर आई कि उसका एक बेटा युद्ध में मारा गया। इस पर महिला मुस्कुराई और बोली, “वह सौभाग्यशाली है कि देश के लिए शहीद हो गया।”

कुछ दिनों बाद खबर आई कि उनके दूसरे बेटे की भी युद्ध में मौत हो गई। तब भी महिला ने कहा कि देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले एक और शहीद बेटे की मां होने पर मुझे गर्व है।

स्त्री के तीसरे पुत्र को भी वीरगति प्राप्त हुई। लेकिन इस बार जब उन्होंने यह खबर सुनी तो गर्व से मुस्कुराने की बजाय उनकी आंखों में आंसू आ गए. तभी पास खड़े एक व्यक्ति ने पूछा, ”आज तुम्हारी आंखों में आंसू क्यों हैं?”

महिला ने कहा, “मैं आज रो रही हूं क्योंकि अब मेरे पास देश को देने के लिए कोई और बेटा नहीं है।”

Leave a Comment